पुत्र का पत्र पिता के नाम कैसे लिखे? - How to write father's letter to son?
Blog

पुत्र का पत्र पिता के नाम कैसे लिखे?

पुत्र का पत्र पिता के नाम कैसे लिखे? – How to write father’s letter to son?

पुत्र का पत्र पिता के नाम।

ए०पी०जे० छात्रावास,कानपुर
दिनांक: 20 मार्च, 20…
पूज्य पिताजी,
सादर प्रमाण
मैं स्वस्थ और सानंद हूँ। आशा है आप भी सकुशल होंगे। दो सप्ताह पूर्व आपका पत्र पढ़ा। सच मानिए कई बार पढ़ा। अंततः पढ़कर आपका मतलब साफ समझ में आ गया। क्षमा चाहता हूँ मैं टेलीविजन देखने की लत का शिकार हो गया था। अब मैं केवल टेलीविजन के शिक्षा और खेल कार्यक्रम तक ही सीमित हूँ। टेलीविजन पुस्तक का स्थान नहीं ले सकता। आपके पत्र ने मेरी आँखें खोल दीं। अब मैं मामा जी से मिलकर ज्ञानवर्द्धक किताब लेता हूँ और पढ़कर सीखता हूँ और पुस्तक लौटा देता हूँ।
मैंने आपकी सलाह को आदेश मानकर अपना पठन-व्यवहार सुधार लिया है। क्षमा कीजिए, पत्र लिखने में कुछ देरी हो गई, श्रद्धेय माता जी से मेरा नमस्कार कहिएगा।
आपका आज्ञाकारी पुत्र
हिमांक
कक्षा-7B

Related.