तुलसी के गमले की मिट्टी से वशीकरण मंत्र कैसे करें?
Totka

तुलसी के गमले की मिट्टी से वशीकरण मंत्र कैसे करें?

तुलसी के गमले की मिट्टी से वशीकरण मंत्र कैसे करें? – Tulsi ke gamle ki mitti se vashikaran mantra kaise kare, How to do Vashikaran Mantra with the soil of Tulsi pot?

हिंदू धर्म में पुराने समय से ही तुलसी माता की पूजा होती जा रही है यह पौधा बहुत ही चमत्कारी पौधा होता है आज इस पौधे को विज्ञान भी अद्भुत मानता है क्योंकि इसमें बहुत सी ऐसी खूबियां होती हैं जिसके कारण इंसान बहुत तरह कि बीमारियों से भी दूर रहता है लेकिन आज हम आपको तुलसी के गमले की मिट्टी से वशीकरण मंत्र करने की विधि बताने वाले हैं और आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यह वशीकरण बहुत ही प्रबल होता है अर्थात यदि आप किसी को वश में करना चाहते हैं तो इस वशीकरण को अवश्य करें।

तुलसी के गमले की मिट्टी से वशीकरण।

यदि आपके घर परिवार मैं तुलसी का पौधा लगा है तो यह मान लीजिए कि आपके घर में जल्दी कोई बीमार नहीं पड़ेगा और यह पौधा आपको अवश्य अपने घर में रखना चाहिए इसलिए भी क्योंकि बहुत से ऐसे लोग होते हैं जो आप पर काला जादू करते हैं तो उन सभी वशीकरण टोटकों से बचने के लिए भी तुलसी का पौधा बहुत लाभदायक होता है।

तो यदि आप किसी पर वशीकरण करना चाहते हैं तो इसके लिए आप तुलसी के गमले की मिट्टी का उपयोग कर सकते हैं इसमें आपको सबसे पहले तुलसी की मिट्टी को मुट्ठी भर निकाल लेना है और याद रहे आपको हरी-भरी तुलसी की मिट्टी ही लेनी होगी उसके बाद आपको इस मिट्टी हो सोमवार के दिन सफेद कपड़े में बांधकर उसके बाद हमारे बताए गए मंत्र का जाप आपको कम से कम 101 बार करना होगा।

उसके बाद आपको इस पोटली में एक छेद का देना होगा और इस पोटली को उस स्थान पर फेंक देना होगा जहां पर वह इंसान आता जाता हो जिसे आप अपने वशीकरण जाल में फंसाना चाहते हैं बेहतर होगा इस पोटली को आपके घर के आसपास फेंके दे इसके बाद आप देखेंगे वह व्यक्ति आपके बस में होगा और आपका कहा ज्यादा मानेगा यह वशीकरण बहुत ही प्रबल वशीकरण होता है और यदि वह व्यक्ति इस मिट्टी को या पोटरी को फांद जाता है तो वह जीवन भर आपके वश में रहेगा।

मंत्र।

ऊपर हमने जिसे 101 बार जब पर जाने वाले मंत्र की बात की है वह मंत्र यह है और इसे आपको जपते समय किसी और चीज या किसी दूसरे व्यक्ति के बारे मे नही सोचना चाहिए अन्यथा यह वशीकरण ज्यादा दिनों तक काम नहीं करेगा।

तुलसी मात वशी किन जगत लाय (उस व्यक्ति का नाम जिसे वश में करना चाहते है) दीन देवों।

Related.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *